विद्यार्थी जीवन में पुस्तकों का महत्व

1
636

कहा जाता है विद्यार्थी जीवन में पुस्तक ही विद्यार्थी की सबसे अच्छी दोस्त है। पुस्तकें वह साधन है जो केवल विद्यार्थी के लिए ही नहीं बल्कि प्रत्येक व्यक्ति के जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा है। लेकिन यह जरूरी नहीं कि पुस्तक केवल स्कूल से संबंधित हो बल्कि पुस्तकें वे भी जो प्रेरणा से भरपूर हो, जो हमें अपने जीवन में बहुत कुछ सीखा जाए। और इस प्रकार की पुस्तकों की कहीं कोई कमी नहीं। हम जो चाहें उस तरह की अच्छी पुस्तक पढ़ सकते हैं जो कि बदले में हमसे रत्ती भर भी नहीं मांगती उलटा हमारी बुद्धि और ताकत का प्रसार ही करती हैं। विद्यार्थियो पुस्तकें केवल मनोरंजन तक सीमित नहीं बल्कि पुस्तक तो हमारी जीवन प्रेरणा का भंडार है जो हमारे अन्दर मानवता रूपी गुण को भर देती है। पुस्तकों में वो ताकत है जिन्हें पढ़ने पर व्यक्ति के अन्दर शिखर तक पहुंचने की तपन पैदा होती है। व्यक्ति के जीवन में पुस्तकें ही सुन्दर मानव सभ्यता का आधार है। इसलिए प्रत्येक व्यक्ति और विद्यार्थी जीवन में यह सर्वश्रेष्ठ लाभ सिद्ध होगा कि हम अच्छी और प्रेरणादायक पुस्तकें पढ़ें और उन्हें अपने जीवन में उतारें।
हमें अपने जीवन में अन्य पुस्तकों के साथ साथ इन चार पुस्तकों को अवश्य पढ़ना चाहिए जो कि प्रेरणा का काफी अच्छा स्रोत है। जिन्हें आप यहां से पीडिएफ में डाउनलोड कर सकते हैं:-

1. The secret/रहस्य –

यह पुस्तक रॅान्डा बर्न द्वारा लिखी गई है। जिसका pdf इस लिंक द्वारा डाउनलोड कर सकते हैं

2. Chanakya niti/चाणक्य नीति –

3. You can win/जीत आपकी –

यह पुस्तक शिव खेड़ा जी द्वारा लिखी गई है जिसका मकसद व्यक्ति के जीवन को सफल बनाना है।

4. Aapka bhwisy aapke hath me/आपका भविष्य आपके हाथ में –

इस पुस्तक के लेखक डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम जी हैं।
हमें खेद है कि अंतिम दो पुस्तकें पीडीएफ में उपलब्ध न होने की वजह से लिंक नहीं डाला गया है।

 प्रिय विद्यार्थियो आपको हमारा यह लेख कैसा लगा हमें comment box में लिखकर बतायें। साथ ही इस लेख को share करना ना भूलें।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY